Friday, August 12, 2011

कविता : गुड्डा

 गुड्डा
 गुड्डा राजा है बड़ा ही ताजा ,
 झम झम कर ये है नाच दिखाता |
 डम डम कर है ये बाजा बजाता ,
 सब के मन को है ये भाता |
नाम : रवि कुमार 
कक्षा : 2nd  
सेंटर : अपन स्कूल ,नहर कोठी

1 comment:

  1. Nice post .

    रक्षाबंधन के पुनीत पर्व पर बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं...

    देखिये
    हुमायूं और रानी कर्मावती का क़िस्सा और राखी का मर्म

    ReplyDelete